जानिए Azitreat 500 टैबलेट के फ़ायदे और उपयोग – Azitreat 500 Tablet Uses In Hindi

Azitreat 500 टैबलेट का मुख्य इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के जीवाणु संक्रमणों के इलाज में किया जाता है जैसे, निमोनिया,ब्रोंकाइटिस, साइनसाइटिस,स्ट्रेप थ्रोट ,गले में होने वाले संक्रमण, फेफड़ों में होने वाले संक्रमण,त्वचा पर संक्रमण, यौन संचारित संक्रमण, बुखार जैसी कई स्थितियों के इलाज के लिए किया जाता है।

यह टाइफाइड बुखार और कुछ यौन बीमारियों जैसे गोनोरिया में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।यह दवा मैक्रोलाइड ग्रुप में आने वाली दवा है,एज़िथ्रोमाइसिन बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है,और संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मदद करता है।

यह ध्यान रखना जरूरी है कि इसका उपयोग केवल डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाना चाहिए, इसकी उपचार की खुराक और अवधि व्यक्तिगत रोगी और इलाज की स्थिति पर निर्भर करती है। अनुपयुक्त रूप से या निर्धारित अवधि से अधिक समय तक एंटीबायोटिक्स लेने से एंटीबायोटिक-प्रतिरोधी बैक्टीरिया का विकास हो सकता है, जो भविष्य में होने वाले उपचारों को कम प्रभावी बना सकता है।

Reed more – जानिए D Fresh Sp टैबलेट का उपयोग और फ़ायदे

जानिए Azitreat 500 टैबलेट के फ़ायदे और उपयोग - Azitreat 500 Tablet Uses In Hindi

azitreat 500 क्या है ? । azitreat 500

यह दवा मैक्रोलाइड ग्रुप में आने वाली दवा है। एज़िथ्रोमाइसिन बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है,और संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मदद करता है। बैक्टीरिया से होने वाले संक्रमण जैसे निमोनिया,ब्रोंकाइटिस, साइनसाइटिस,स्ट्रेप थ्रोट ,गले में होने वाले संक्रमण, फेफड़ों में होने वाले संक्रमण,त्वचा पर संक्रमण, यौन संचारित संक्रमण, बुखार जैसी कई स्थितियों के इलाज के लिए किया जाता है।

यह मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक श्रेणी में आने वाली दवा है। यह ग्राम नेगेटिव जीवाणुओं पर यह अन्य मैक्रोलाइड की अपेक्षा यह अधिक प्रभावशाली है। ग्राम पॉजिटिव जीवाणुओं पर इसका प्रभाव अन्य मैक्रोलाइड के ही समान है।

यह सभी प्रकार के बैक्टीरिया से होने वाले इन्फेक्शन को दूर करने में इसका इस्तेमाल किया जाता है। यह नाक, कान, आंख, गले,त्वचा और फेफड़ों में होने वाले इन्फेक्शन जैसे कि निमोनिया में इसका उपयोग किया जाता है।

azitreat 500 कैसे काम करती है ? । azitreat 500 tablet uses

एज़िथ्रोमाइसिन बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता अपना काम करती है,और संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मदद करता है।इसका कार्य क्षेत्र काफी विस्तृत है यह ग्राम पॉजिटिव और ग्राम नेगेटिव जीवाणुओं पर अपना जीवाणु नाशक कार्य करती है। यह बैक्टीरिया को कोशिका झिल्ली बनाने से पहले बैक्टीरिया को खत्म करता है।मुंह से लेने पर इस दवा का अच्छा अवशोषण होता है इसका इस्तेमाल खाने के पहले या बाद में कभी भी कर सकते हैं।

azitreat 500 टैबलेट के फ़ायदे । azitreat 500 uses

श्वसन मार्ग में होने वाले संक्रमण को दूर करने में

यह दवा श्वसन मार्ग में होने वाले संक्रमण जैसे,निमोनिया,ब्रोंकाइटिस, साइनसाइटिस,स्ट्रेप थ्रोट को दूर करने में फायदेमंद है।

यौन संचारित संक्रमण को दूर करने में

यह दवा यौन संचारित संक्रमण जैसे,क्लैमाइडिया और गोनोरिया को दूर करने में इसका उपयोग किया जाता है।

कान के संक्रमण को दूर करने में

यह दवा कान में होने वाले संक्रमण को दूर करने में फायदेमंद है,

त्वचा पर होने वाले संक्रमण को दूर करने में

यह दवा त्वचा पर होने वाले संक्रमण को दूर करने में मदद करती है।

azitreat 500 का उपयोग । azitreat 500 uses in hindi

इसका इस्तेमाल यह निम्नलिखित परिस्थितियों में किया जाता है जैसे

• निमोनिया

• ब्रोंकाइटिस

• साइनसाइटिस

• स्ट्रेप थ्रोट

• गले में होने वाले संक्रमण

• फेफड़ों में होने वाले संक्रमण

• त्वचा पर संक्रमण

• जनन मूत्रमार्ग संक्रमण

• बुखार

azitreat 500 की खुराक । azitreat 500 in hindi

[table id=43 /]

इस की खुराक अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार लेना चाहिए। यह व्यक्ति की उम्र, वजन, लिंग और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए डॉक्टर इसकी मात्रा को बढ़ा या घटा सकते हैं।

azitreat 500 टैबलेट का इस्तेमाल कैसे करें । azitreat 500 tablet uses in hindi

इस दवा की सही खुराक के बारे में अपने डॉक्टर से सलाह ले। इसलिए टेबलेट को बिना तोड़े साबुत निगल लें। इस दवा को खाने के पहले या खाने के बाद कभी भी इस्तेमाल किया जा सकता है, इसे एक निर्धारित समय पर लेना जरूरी है, इसकी एक टेबलेट को दिन एक बार लिया जा सकता है।

azitreat 500 के नुकसान । azitreat 500 side effects

इससे संबंधित साइड इफेक्ट्स प्रकार है

• मितली

• उल्टी    (और पढ़े – उल्टी का इलाज )

• पेट दर्द, पेट में मरोड़

• दस्त

• यकृत में सूजन

• सिर चकराना

• सुस्ती आना, थकान

• दिल की धड़कन तेज होना

इनमें से किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट देखने पर तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। इसकी सही खुराक का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए।

azitreat 500 की रचना । azitreat 500 composition

[table id=42 /]

इस टेबलेट की रचना Azithromycin घटक को मिलाकर की गई है। एक मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक कैटेगरी में आने वाली की दवा है। यह सभी प्रकार के बैक्टीरिया से होने वाले इन्फेक्शन को दूर करने में इसका इस्तेमाल किया जाता है।यह नाक, कान, आंख, गले,त्वचा और फेफड़ों में होने वाले इन्फेक्शन जैसे कि निमोनिया में इसका उपयोग किया जाता है।

azitreat 500 से संबंधित सावधानियां

• पीलिया होने पर इस टेबलेट का उपयोग नहीं किया जाता है।

• इसका इस्तेमाल करते समय शराब नहीं पीना चाहिए।

• गर्भावस्था के समय का इसका इस्तेमाल अपने डॉक्टर की सलाह पर करना चाहिए।

• स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर करना चाहिए।

• गुर्दे की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को इसका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर करना चाहिए।

• लिवर की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को इसका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर करना चाहिए।

Conclusion

azitreat 500 टैबलेट का मुख्य इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के जीवाणु संक्रमणों के इलाज में किया जाता है जैसे, निमोनिया,ब्रोंकाइटिस, साइनसाइटिस,स्ट्रेप थ्रोट ,गले में होने वाले संक्रमण, फेफड़ों में होने वाले संक्रमण,त्वचा पर संक्रमण, यौन संचारित संक्रमण,कान के संक्रमण और बुखार जैसी कई स्थितियों के इलाज के लिए किया जाता है।

यह ध्यान रखना जरूरी है कि इसका उपयोग केवल डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाना चाहिए, इसकी उपचार की खुराक और अवधि व्यक्तिगत रोगी और इलाज की स्थिति पर निर्भर करती है। अनुपयुक्त रूप से या निर्धारित अवधि से अधिक समय तक एंटीबायोटिक्स लेने से एंटीबायोटिक-प्रतिरोधी बैक्टीरिया का विकास हो सकता है, जो भविष्य में होने वाले उपचारों को कम प्रभावी बना सकता है।

इन्हें भी देखें

Acloton Sp टैबलेट के फ़ायदे और उपयोग 

xeromol sp tablet uses in hindi – जानिए xeromol sp टैबलेट के फ़ायदे

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top